Article Details

डॉ. भीमराव अम्बेडकर का व्यक्तित्व एवं कृतिव | Original Article

Devender Kumar*, in Journal of Advances and Scholarly Researches in Allied Education | Multidisciplinary Academic Research

ABSTRACT:

किसी भी महान् व्यक्ति के जीवन और उद्देश्य की व्याख्या करना बहुत ही कठिन कार्य है। उसके कार्यों, उपलब्धियों, निराशाओं, खुशियों एवं कष्टों की विवेचना करना आसान कार्य नहीं है। डाॅ. अम्बेडकर भी इन्हीं महान् व्यक्तियों में से एक है। आधुनिक भारत का निर्माण करने वालो में उनका प्रमुख स्थान है। वे आधुनिक भारत के असावधारण विद्वान, विधिवेता, समाज सुधारक, इतिहासकार, अर्थशास्त्री और वक्ता थे। इन सभी क्षेत्रों में उनके योगदान के अलावा उन्होंने समाज में अपेक्षित दलित वर्ग के लिए जो कार्य किए उसके लिए वे दलितों के ‘मसीहा’ बन गये।